चुनाव आयोग ने योगी, मायावती पर चुनावी प्रचार पर लगाई रोक

नई दिल्ली – 15 अप्रैल 2019

लोकसभा चुनाव के दौरान चुनाव आयोग की सख्ती काफी तेज समझ में आ रही है आयोग इस बार हर किसी पर नज़र बनाए हुए है सोमवार को चुनाव आयोग ने विवादित बयानों के लिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और बहुजन समाज पार्टी की प्रमुख मायावती के प्रचार करने पर रोक लगा दी है ये रोक योगी के लिए 72 घंटे और मायावती के लिए 48 घंटे तक जारी रहेगी, ये रोक मंगलवार सुबह 6 बजे से शुरू होगी

आंकड़ों के अनुसार चुनाव आयोग का ये एक्शन काफी सख्त है, इस दौरान दोनों नेता कोई भी चुनावी रैली नहीं कर पाएंगे इसके अलावा ना ही वह जनता के सामने वोट मांगने के लिए आ सकेंगे

•    कोई चुनावी सभा नहीं कर पाएंगे

•    कोई टीवी इंटरव्यू नहीं दे पाएंगे

    कोई राजनीतिक ट्वीट नहीं कर पाएंगे

   सार्वजनिक कार्यक्रम में शामिल नहीं हो सकेंगे

   कोई रोड शो नहीं कर पाएंगे

सूत्रों के अनुसार दोनों ही नेता चुनावी रैलियों के अलावा सोशल मीडिया पर भी एक्टिव रहते हैं योगी आदित्यनाथ तो भारतीय जनता पार्टी के स्टार प्रचारक हैं, जो यूपी के साथ-साथ पूरे देश में प्रचार कर रहे हैं योगी ना सिर्फ भाषण बल्कि ट्विटर के जरिए भी विपक्षियों पर वार कर रहे थे

इसके अलावा बसपा प्रमुख मायावती भी अब सोशल मीडिया पर एक्टिव रहती है मायावती भी चुनावी सभाओं के अलावा ट्विटर के जरिए केंद्र सरकार और भारतीय जनता पार्टी पर निशाना साधती हैं मायावती के निशाने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ही रहते हैं

LEAVE A REPLY