पीओके एयर स्ट्राइक पर कई राज्यों में हाई अलर्ट जारी, खाली कराये बाघा बार्डर के गाँव

चण्डीगढ़ – 27 फरवरी 2019

पीओके पर एयर स्ट्राइक के बाद भारत-पाकिस्तान सीमा पर तनाव की स्थिति बनी हुई है। इसके चलते चंडीगढ़, पठानकोट और अमृतसर एयरपोर्ट से सभी उड़ानें रद्द कर दी गई हैं। चंडीगढ़ में इमरजेंसी लागू कर दी गई है। प्रशासन ने हाई अलर्ट जारी करते हुए आलाधिकारियों की इमरजेंसी ड्यूटी लगा दी है। पठानकोट के बाद अब गुरदासपुर में भी सेना की तैनाती की जा रही है। यह जानकारी बॉर्डर रेंज के डीआईजी राजेश शर्मा ने दी।

पंजाब में बॉर्डर के साथ-साथ नाकों पर पुलिस के साथ आर्मी जवानों को भी तैनात कर दिया गया है। जीरो लाइन पर स्थित पंजाब के गांवों में कुछ हद तक दहशत का माहौल है। सेना ने सीमावर्ती क्षेत्र में गतिविधियां बढ़ा दी हैं। पंजाब में बॉर्डर से सटे गांवों को खाली कराया जा रहा है। लोगों को सुरक्षित स्थानों पर जाने के आदेश जारी कर दिए गए हैं।

आंकड़ों के अनुसार पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों ने मंगलवार शाम सीमावर्ती एरिया के गांवों में पहुंचकर स्थिति की समीक्षा की। डीसी रामबीर, एसएसपी विवेकशील सोनी, एसडीम अर्शदीप सिंह और एडीसी ने ग्राउंड जीरो के आसपास के गांवों में स्थिति का जायजा लिया। जम्मू कश्मीर से आने और जाने वाले हर वाहन की गहनता से तलाशी ली जा रही है।
वहीं आर्मी और जिला प्रशासन ने तनाव के माहौल में लोगों को सतर्क रहने की सलाह दी है। कथलौर नाका इंचार्ज दलबीर कुमार का कहना है कि एयर स्ट्राइक के बाद बने हालात और संवेदनशील क्षेत्र होने के चलते अलर्ट किया गया है। इस पुल से गुजर रहे हर वाहन की तलाशी लेने के सख्त आदेश हैं। वहीं डीसी ने अधिकारियों से बैठक कर हाई अलर्ट रहने और स्टेशन न छोड़ने के आदेश दिए हैं।

पाकिस्तान सीमा में की गई भारत की कार्रवाई के बाद वाघा स्थित आस-पास के गांवों को सेना ने खाली करवाना शुरू कर दिया है। सीमावर्ती गांव खालड़ा से आए किसान गुरबख्श सिंह ने बताया कि देर शाम उन्हें सेना ने गांव खाली करने के लिए कहा। अब वे अमृतसर में अपने रिश्तेदार के यहां ठहरे हैं।

इधर, हरियाणा के हिसार और सिरसा में भी अलर्ट जारी किया गया है। पाक स्थित आतंकी ठिकानों पर हमले के बाद हिसार में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई। जिला पुलिस को अलर्ट जारी कर दिया गया, जिसके बाद जिले की सभी सीमाओं को चाक-चौबंद कर दिया गया। खासतौर पर राजस्थान से सटी बालसमंद और सिवानी की सीमाओं पर चौकसी बढ़ा दी गई।

LEAVE A REPLY