अगर एनटीपीसी पावर प्लांट भगवा रंग का होता तो..?

उत्तर प्रदेश के रायबरेली में बुधवार को नेशनल थर्मल पॉवर कॉरपोरेशन (एनटीपीसी) के ऊंचाहार प्लांट में बॉयलर का पाइप फटने से हुए हादसे पर जनता दल(यूनाइटेड) से निलंबित सांसद अली अनवर ने उत्तर प्रदेश सरकार को घेरते हुए कहा है कि, अगर एनटीपीसी पावर प्लांट को भी भगवा कर दिये होते तो शायद ये हादसा ना होता। इस हादसे में अबतक 28 लोगों की मौत हो चुकी है और लगभग 200 लोग गंभीर रुप से घायल हैं।

बिहार में नीतीश कुमार के महागठबंधन से अलग होकर बीजेपी के साथ जाने के बाद अली अनवर ने खुलकर बगावत कर दी थी। राज्यसभा सांसद अली अनवर के बगावती सुर के मद्देनजर उन्हें जदयू से निलंबित कर दिया गया। आपको बता दें कि पिछले दिनों यूपी में सचिवालय जैसी इमारतों को भगवा रंग से रंगा गया। यूपी रोडवेज की बसों को भी भगवा रंग का किया जा रहा है। अली अनवर ने यूपी सरकार के इसी फैसले को द्याम में रखते हुए बीजेपी की चुटकी ली है।

एनटीपीसी में हुए इस दर्दनाक हादसे को देखते हुए कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी अपने गुजरात दौरे को बीच में छोड़ घायलों और मृतकों के परिजनों से मिलने रायबरेली पहुंचे।

राहुल से पहले उनकी मां और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने भी इस घटना पर खेद जताया था। रायबरेली से सांसद सोनिया ने कहा था कि वह पीड़ित परिवार वालों के दुख में साथ हैं। वह उनकी मदद के लिए तत्पर रहेंगी। हालांकि, सोनिया खुद घायलों से मिलने आना चाहती थीं, लेकिन तबीयत में गड़बड़ी के कारण वे आ न सकीं।राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी इस घटना पर दुख प्रकट किया था।

LEAVE A REPLY