BRD मेडिकल कॉलेज : क्यों नहीं थम रहा सिलसिला मासूमों की मौत का?

पता नहीं किसकी नज़र लग गयी गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज को जो यहां बच्चों की मौत का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। इतना हल्ला मचा, खबर की इण्टरनेशनल मीडिया में सुर्खियां बनी लेकिन आज भी यहां ज़िंदगी की आस लेकर आने वाले बच्चे मौत के काल में समाकर ही वापिस लौट रहे हैं।

इससे पहले अगस्त के दूसरे हफ्ते में पांच दिनों में 60 मौतों की खबर सामने आई थी। कॉलेज प्रिंसिपल सिंह ने कहा, ज्यादातर मौत निमोनिया, सेप्टीसीमिया, एस्थीक्सिया जैसी अलग-अलग बीमारियों की वजह से नियोनेटल इंटेंसिव केयर यूनिट (NICU) में हुई हैं। अभी एनआईसीयू में 118 बच्चे भर्ती हैं, जहां अलग-अलग मेडिकल रीजन्स की वजह से 13 की मौत हो चुकी है। पेडिएक्ट्रिक वार्ड में 333 मरीज भर्ती हैं, जहां 109 बच्चे इंसेफेलाइटिस से जूझ रहे हैं।

इंडियन एक्सप्रेस पर छपी खबर के मुताबिक, बीआरडी मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल पी के सिंह ने कहा, पिछले 24 घंटों में यहां करीब 19 और बच्चों की मौत हो चुकी है। जिनमें 13 नवजात और छह अन्य इंसेफेलाइटिस की बीमारी से जूझ रहे थे। वहीं सात अक्टूबर से लेकर 10 अक्टूबर के बीच चार दिनों में 69 मौतें हो चुकी हैं।

LEAVE A REPLY