आरुषि-हेमराज हत्याकांड: फैसला आज

इलाहाबाद हाईकोर्ट नोएडा के चर्चित आरुषि-हेमराज हत्याकांड में गुरुवार को फैसला सुना सकता है. कोर्ट के फैसले से इस हत्याकांड में उम्र कैद की सजा काट कर रहे आरुषि के पिता राजेश तलवार और मां डॉ. नुपुर तलवार की किस्मत का फैसला भी हो जाएगा.  तलवार दंपत्ति की तरफ से दाखिल याचिका पर हाईकोर्ट ने 7 अक्टूबर को सुनवाई पूरी करते हुए फैसला सुरक्षित रख लिया था. गाजियाबाद सीबीआई कोर्ट ने तलवार दंपत्ति को दोषी मानते हुए उम्रकैद की सजा सुनाई थी. जिसके बाद इस फैसले को तलवार दंपत्ति ने इलाहाबाद हाईकोर्ट में चुनौती दी थी.

कब-कब क्या हुआ?

आरुषि व हेमराज की हत्या 15 मई 2008 की रात नोएडा के सेक्टर-25 जलवायु विहार स्थित घर में हुई थी. 16 मई की सुबह आरुषि का खून से लथपथ शव उसके कमरे में बिस्तर पर पड़ा मिला था. तलवार दंपति ने इस हत्या का आरोप अपने नौकर हेमराज पर लगाया था. केस में 17 मई की सुबह तब नया मोड़ आ गया, जब हेमराज का भी खून से लथपथ शव तलवार दंपति के फ्लैट की छत से बरामद हुआ.

हत्याकांड में नोएडा पुलिस ने 23 मई को डॉ. राजेश तलवार को बेटी आरुषि और नौकर हेमराज की हत्या के आरोप में गिरफ्तार कर लिया था. 1 जून को इस केस की जांच सीबीआई को स्थानांतरित हो गई. 9 फरवरी को सीबीआई ने तलवार दंपति के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया. सीबीआई की जांच के आधार पर गाजियाबाद सीबीआई कोर्ट ने 26 नवंबर 2013 को हत्या और सबूत मिटाने का दोषी मानते हुए उम्रकैद की सजा सुनाई थी. तब से तलवार दंपति जेल में बंद हैं.

LEAVE A REPLY