ट्रंप की पत्नियों के बीच छिड़ी फर्स्ट लेडी कहलाने की जंग

महिला एक ऐसी प्राणी है जो जहां भी रहे वहां झगड़ा अवश्य होता है। अब देखिए अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की पत्नी मेलानिया और पहली पत्नी इवाना ट्रंप के बीच फर्स्ट लेडी होने के लिए जंग छिड़ी है। पहले अब यूएस राषट्रपति की पहली पत्नी इवाना ट्रंप ने फर्स्ट लेडी होने का दावा किया है। जिसके बाद मेलानिया ने इवाना के लिए एक संदेश जारी करते हुए कहा कि वह लोगों का ध्यान अपनी ओर खींचने के लिए ऐसा कह रही हैं।

दरअसल इवाना ट्रंप ने एबीसी न्यूज़ के प्रोग्राम गुड मॉर्निंग अमेरिका में अपनी किताब ‘राइजिंग ट्रंप’ को प्रोमोट करते हुए कहा था कि वह राष्ट्रपति ट्रंप की पहली पत्नी हैं, इसलिए वह ही फर्स्ट लेडी हैं। 68 वर्षीय इवाना ने मजाकिया अंदाज में कहा था, ‘मेरे पास व्हाइट हाउस का नंबर है, मैं चाहूं तो वहां कभी भी कॉल कर सकती हूं, लेकिन मैं ऐसा नहीं करूंगी, क्योंकि वहां मेलानिया मौजूद है।’

साल 1977 से 1992 तक डोनाल्ड ट्रंप की पत्नी रहीं इवाना ने कहा, ‘मैं व्हाइट हाउस में कॉल नहीं करूंगी, क्योंकि मैं मेलानिया को जलाना नहीं चाहती हूं क्योंकि बुनियादी तौर पर मैं डोनाल्ड ट्रंप की पहली पत्नी हूं तो ऐसे में मैं ही फर्स्ट लेडी हूं।’

इवाना के इस बयान से डोनाल्ड ट्रंप की तीसरी और वर्तमान पत्नी मेलानिया ट्रंप खासा नाराज हो गईं। मेलानिया ने इवाना के इस बयान को लोगों का ध्यान आकर्षित करने वाला कह दिया। मेलानिया की प्रवक्ता ने एक बयान जारी करते हुए कहा, ‘मेलानिया ने अपने बेटे बैरन ट्रंप और राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के लिए व्हाइट हाउस को घर बना दिया। उन्हें वॉशिंगटन डीसी बेहद पसंद हैं और वह फर्स्ट लेडी कहलाने पर सम्मानित महसूस करती हैं। वह फर्स्ट लेडी होने के टाइटल और भूमिका का उपयोग बच्चों की मदद करने के लिए करेंगी, किसी किताब को बेचने के लिए नहीं।’

बयान में कहा गया है कि इवाना की बातों में कोई दम नहीं है और वह सब बेबुनियाद हैं, उन्होंने अपनी किताब के प्रमोशन के लिए और लोगों का ध्यान अपनी ओर आकर्षित करने के लिए फर्स्ट लेडी होने की बात कही है।

LEAVE A REPLY