यूएसए के आगे नहीं टिक सका भारत

दिल्ली के जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में भारत और अमेरिका के बीच फुटबाल का ऐतिहासिक मुकाबला खत्म हो चुका है। पहले मैच में यूएसए ने मेजबान भारत को 3-0 से हरा दिया। मैच में यूएसए की तरफ से सार्जेंट, क्रिश डरकिन और एंड्र्यू कार्लटन ने एक-एक गोल कर अपनी टीम की जीत में अहम योगदान दिया।

भारत का अगला मुकाबला 9 अक्टूबर को कोलंबिया से होगा। फीफा विश्व कप में पहली बार कदम रख रही भारतीय टीम मजबूत अमेरिकी टीम के सामने मैदान में थी। भारत को ग्रुप-ए में रखा गया है जहां उसके साथ अमेरिका के अलावा कोलंबिया और घाना जैसी फुटबॉल की दिग्गज टीमें हैं। भारतीय टीम का सामना शुक्रवार (6 अक्टूबर) अमेरिका से, नौ अक्टूबर को कोलंबिया और 12 अक्टूबर को घाना से होगा।

हालांकि फुटबॉल में भारत की स्थिति और प्रदर्शन को देखते हुए उसके नॉकआउट दौर में जाने की संभावना ना के बराबर है, लेकिन मेजबान अपने सभी प्रतिद्वंद्वियों को कड़ी चुनौती देने के लिए प्रतिबद्ध हैं। भारत फुटबॉल के लिए मशहूर नहीं है, जबकि अमेरिका के पास बेहतरीन टीम है। उन्होंने फीफा अंडर-17 विश्व कप के 17 में से 16 संस्करणों में हिस्सा लिया है। सिर्फ 2013 में ही अमेरिकी टीम इस विश्व कप में नहीं खेली थी।

 

LEAVE A REPLY