अखिलेश यादव फिर से बने सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पूरे पांच साल के लिए समाजवादी पार्टी का अध्यक्ष चुन लिया गया। अब पार्टी की पूरी कमान अखिलेश हाथों आ गयी है साथ ही मुलायम सिंह यादव और शिवपाल का रास्ता पूरी तरह साफ हो गया। अब यह देखना दिलचस्प होगा कि अखिलेश किस तरह पार्टी की खोई साख को वापिस लाते हैं और पार्टी को किस प्रकार से एक्टिव रखते हैं।

न्यूज एजेंसी एएनआई के अनुसार अखिलेश अगले पांच सालों के लिए सपा के अध्यक्ष रहेंगे। आगरा अधिवेशन में सर्वसम्मति से नए अध्यक्ष का चुनाव किया गया। गौरतलब है कि पहले अध्यक्ष पद का कार्यकाल तीन साल के लिए होता था, लेकिन अखिलेश यादव को पांच साल के लिए चुना गया है। राष्ट्रीय अध्यक्ष बनते ही सपा की कमान पूरी तरह अखिलेश के हा‌थों में आ गई है। अखिलेश सपा संस्थापक और पिता की जगह एक जनवरी 2017 पार्टी अध्यक्ष बने थे।

कुछ समय पूर्व अखिलेश ने बयान दिया था कि उनकी पत्नी डिंपल अब कोई चुनाव नहीं लड़ेंगी। आलोचकों का मानना है कि इससे अखिलेश सपा की परिवारवाद की राजनीति वाली छवि से पार्टी को उबारने का प्रयास कर रहे हैं। लेकिन अब यह सवाल उठता है कि मुलायम सिंह की भरपाई अखिलेश कर पायेंगे?

 

LEAVE A REPLY