80% प्रतिशत महिलाएं पहनती हैं गलत साइज़ की ब्रॉ

फिल्म दंगल का डायलॉग है “म्हारी छोरियां छोरों से कम हैं के?” वैसे तो इस बात में कोई दोराय नहीं है कि छोरियां, छोरों से किसी मामले में कम नहीं हैं। दुनिया का शायद ही ऐसा कोई फील्ड होगा जिसमें वो मर्दों के साथ कदम से कदम मिलाकर नहीं चल रही हैं। लेकिन यह बात भी सही है कि ऐसी बहुत सी चीजें हैं जो मर्दों को औरतों से अलग बनाती हैं। इनमें से कुछ अच्छी हैं तो कुछ बुरी।

जैसे कुछ लड़के हफ्तों तक नहीं नहाते हैं तो वहीं लड़कियाें के मामले में यह बात एकदम उलट साबित हो जाती है। मसलन ऐसी लड़कियां बहुत ही कम होती हैं जो एक भी दिन नहाए बिना रह सके। लड़कों की शॉपिंग 5 मिनट में पूरी हो जाती है, वहीं लड़कियां तो आधा जीवन शॉपिंग में निकाल देती हैं।

लड़के अधिकांश मौकों पर दो जोड़ी कपड़ों में खुश रहते हैं वहीं लड़कियों का वॉर्डरोब भी भरा हो तो उन्हें कम ही लगता है। यह तो बात हुई लड़के और लड़कियों की। मगर आज मैं महिलाओं को लेकर बात करने वाला हूं। कुछ ऐसे फैक्ट्स जो पूरी तरह से सही हैं। और तो और इनमें से कुछ बातें महिलाएं खुद नहीं जानती। आइए जानते हैं पूरी बात।

1. गलत साइज की ब्रा

इंटरनेट पर मैंने पढ़ा था कि गलत साइज की ब्रा पहनने से महिलाओं को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। आपको जानकार हैरानी होगी कि दुनिया भर में 80 प्रतिशत से ज्यादा महिलाएं गलत साइज की ब्रा पहनती हैं।

2. बताती हैं खुद को खूबसूरत

वैसे तो हर महिला खूबसूरत होती है। लेकिन करीना की तरह कॉन्फिडेंस से खुद को खूबसूरत बता सके, ऐसी दुनिया में सिर्फ 2% महिलाएं ही हैं।

3. ये बात शायद आपने नहीं सुनी होगी

महिलाओं का दिल मर्दों की तुलना में तेजी से धड़कता है। शायद इसलिए माधुरी दीक्षित को धक-धक गर्ल बुलाया जाता है।

4. इतने साल गुजर जाते हैं दर्द में

हर महिला के लिए महीने के वो कुछ दिन बहुत दर्द वाले होते हैं। एक महिला अपनी ज़िंदगी के औसतन 4 साल पीरियड्स के दर्द में गुजार देती है।

5. ज्यादा लम्बाई भी अच्छी नहीं

वैसे तो लम्बी लड़कियां हर किसी को पसंद होती हैं, लेकिन एक स्टडी के अनुसार लम्बी लड़कियों को छोटी लड़कियों की तुलना में कैंसर होने का खतरा ज्यादा होता है।

LEAVE A REPLY